भगवान शिव के पिता कोन है. भगवान शिव की उत्पत्ति कैसे हुई ?

भगवान शिव के पिता कोन है ? और भगवान शिव की उत्पति कैसे हुई ?

Hello दोस्तों आपका स्वागत है हमारे ब्लॉग Speedindia24 पर ! आज का हमारा आर्टिकल RELIGIOUS STORIES यानि की पौराणिक कथा से Related है ! आज हम आपको बतायेंगे की भगवान शिव के पिता कोन है ? और भगवान शिव की उत्पत्ति कैसे हुई ? तो  दोस्तों हमारे साथ बने रहिये और पढ़ते रहिये हमारी अजब-गजब जानकारिया ! अब शुरू करते है हमारे आज का आर्टिकल !

भगवान शिव के पिता कोन है

इस आर्टिकल में हम आपको क्या-क्या जानकारी देने वाले है ?

  1. भगवान शिव की उत्पत्ति कैसे हुई ?
  2. भगवान शिव के पिता कोन है ?
  3. भगवान शिव के दादाजी का नाम क्या है ?
  4. भगवान शिव के परदादाजी कोन है ?

1. भगवान शिव की उत्पत्ति कैसे हुई ?

दोस्तों आज हम आपको बतायेंगे की भगवान शिव के पिता कोन है ? भगवान शिव ही अगर इस दुनिया के आदि और अंत है, तो फिर इनके माता-पिता कोन है ! भगवान शिव ही इस दुनिया का आरम्भ है और अंत भी ! दुसरे शब्दों में कहे तो भगवान शिव ने ही इस दुनिया का आरम्भ किया था और वही इसका अंत भी करेंगे !

अब सवाल ये है की अगर भगवान शीव से ही इस दुनिया का आरम्भ हुआ है ! तो क्या उन्हें किसी ने जन्म दिया होगा ! आखिर भगवान शिव के पिता कोन है ? अगर भगवान शिव को किसी ने जन्म ही नहीं दिया तो फिर इस दुनिया में जीवन की शुरुआत कैसे हुई ?

ये भी पढ़े : 

2. भगवान शिव के पिता कोन है ?

पौराणिक मान्यताओ के अनुसार भगवान शिव के पिता से जुड़े रहस्य को जानने के लिए ऋषियों ने एक बार उनसे एक सवाल किया ! है महादेव आपको किसने जन्म दिया है ? शिव के माता-पिता से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए ! भगवान शिव ऋषियों की इस जिज्ञासा को शांत करते हुए कहा – की मुझे इस दुनिया का निर्माण करने वाले भगवान ब्रह्मा ने जन्म दिया है !

3. भगवान शिव के दादाजी का नाम क्या है ?

ऋषियों की जिज्ञासा इतने में शांत नहीं हुई तो उन्होंने फिर एक बार भगवान शिव से सवाल पूछा – की अगर ब्रह्मा आपके पिता है तो फिर आपके दादाजी कोन है ? भगवान शिव ने इस बात का जवाब दत्ते हुए कहा की इस दुनिया का पालन करने वाले विष्णु ही मेरे दादाजी है !

4. भगवान शिव के परदादाजी कोन है ?

भगवान शिव की लीला से अनजान ऋषियों ने फिर से एक और सवाल किया की अगर ब्रह्मा आपके पिता और विष्णु आपके दादाजी है तो फिर आपके परदादाजी कोन है ? ऋषियों के इस सवाल को सुन भगवान शिव ने मुस्कुराते हुए कहा – की भगवान शिव खुद ही मेरे परदादा है ! 

श्रीमद्देवी महापुराण के मुताबित कहा जाता है की एक बार नारदजी ने अपने पिता ब्रह्माजी से एक सवाल किया है ! की इस दुनिया का निर्माण किसने किया है ? ब्रह्माजी ने, भगवान विष्णुजी ने या फिर स्वयम भगवान शिव ने तथा इस तीनो को जन्म किसने दिया है ? अर्थात आपके माता-पिता कोन है ?

तब परमपिता ब्रह्मा ने त्रिदेवो के जन्म की गाथा का वर्णन करते हुए कहा की प्रक्रति स्वरुप दुर्गा और काल सदाशिव स्वरुप ब्रह्मा के योग से ब्रह्मा, विष्णु और महेश की उत्पत्ति हुई है ! अर्थात प्रकृति स्वरुप दुर्गा ही माता है और ब्रह्मा यानि की काल सदाशिव के पिता है !

पुराणों में भगवान और आदिशक्ति की महिमाओ के अलग-अलग उलेख मिलते है ! लेकिन भगवान की लीला तो वही जाने ! इनकी लीलाओ को समझना हम इंसानों के बीएस की बात नहीं है ! क्योकि भगवान शिव तो देवो के देव भी है और वही आदि है और अंत भी है !


अगर आपको हमारा आज का आर्टिकल अच लगा हो तो Please इसे अपने दोस्तों और Social media पर शेयर जरुर करे ! 

यदि आपको इससे जुडी कोई और जानकारी है तो निचे Comment बॉक्स में लिखे !

loading...

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *