Bhangarh Story In Hindi | भानगढ के किले का इतिहास | भानगढ़ का रहस्य

Bhangarh Story In Hindi : Hello दोस्तों Speed India 24 आपका हार्दिक स्वागत करता है. आज हम आपके लिए “Bhangarh Story In Hindi | भानगढ के किले का इतिहास | भानगढ़ का रहस्य” की जानकारी लेकर आये है. भानगढ़ के किले का नाम तो आपने सुना ही होगा ! भानगढ़ का रहस्य अगर नहीं सुना तो आज हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले है ! हमारे साथ बने रहे और पढ़ते रहे भानगढ़ का रहस्य !

आज हम आपको इन विषयों के बारे में पूरी जानकारी देंगे !

  • Bhangarh Story In Hindi

  • भानगढ के किले का इतिहास

  • भानगढ़ का रहस्य



Bhangarh Story In Hindi | भानगढ के किले का इतिहास | भानगढ़ का रहस्य

Bhangarh Story In Hindi

भानगढ़ राजस्थान के अलवर जिले में स्थित है ! इस किले का निर्माण आमेर के राजा भगवंत दास ने सन-1573 में बनवाया ! यह किला विश्व प्रसिद्ध है ! इसे भुतहा किले के नाम से भी जाना जाता है !

Bhangarh Story In Hindi : इस दुर्ग की राजकुमारी रत्नावती बहुत ही सुन्दर थी ! इस लिए ये राज्य विश्व प्रसिद्ध था ! राजकुमारी के लिए दुर-दुर से राजा-महाराजाओ के रिश्ते आया करते थे ! लेकिन राजकुमारी ने किसी भी रिश्ते के लिए अपनी मंजूरी नहीं दी ! भानगढ़ की राजकुमारी रत्नावती के स्वयंवर की तेयारिया चल रही थी ! लेकिन उसी राज्य में एक तांत्रिक सिंघि‍या नाम का रहता था ! वह राजकुमारी से अत्यंत प्रेम करता था ! वह राजकुमारी को पाना चाहता था ! लेकिन यह संभव नहीं था !

इसी कारण उसने राजकुमारी को पाने के लिए अपने तंत्र-मंत्रो का प्रयोग करना चाहा ! एक दिन जब राजकुमारी की दासी उनके लिए तेल लेने बाजार गयी ! तब तांत्रिक ने उस तेल में सम्मोहित करने का मंत्र डाल दिया ! लेकिन वह दासी तांत्रिक की इस चाल को समज गयी और तेल को पास ही एक चटान पर गिरा दिया ! सम्मोहित तेल की वजह से वो चटान तांत्रिक के पीछे-पीछे चली गयी और तांत्रिक को कुचल दिया ! तांत्रिक ने मरते-मरते पुरे भानगढ़ को श्राप दिया की बहुत जल्द ही पूरा राज्य सम्माप्त हो जाएगा !  उन सभी की आत्माओ को कभी भी मुक्ति प्राप्त नहीं होगी ! (भानगढ के किले का इतिहास)

तांत्रिक सिंघि‍या के श्राप के चलते पूरा राज्य समाप्त हो गया ! लोगो का मानना है की आज भी उन साभी लोगो की आत्माए वहा पर रहती है ! रात होने के बाद कोई भी इन्सान वहा पर नहीं जाता है ! यदि कोई गया भी है तो वापस नहीं आया ! श्राप के चलते पूरा राज्य भूतो का राज्य बन गया ! सूरज ठलने के बाद भानगढ़ किले में जाने पर कानून ने रोक लगा राखी ही ! भानगढ़ का किला न शिर्फ़ राजस्थान या भारत में प्रसिद्ध बल्कि भानगढ़ का रहस्य पूरी दुनिया को पता है !

Bhangarh Story In Hindi
Bhangarh Story In Hindi

भानगढ़ का किला पूरी तरह खंडर बन चूका है ! यहाँ पर देश-विदेश के कई लोग आते है ! लेकिन शाम होने से पहले भानगढ़ से दूर चले जाते है ! भानगढ़ दुर्ग को तांत्रिको द्वारा तंत्र-मंत्रो की सहायता से सुरक्षित किया गया है ! इस किले में लगभग 10 हजार लोगो की जान गयी थी ! जिनकी आत्माए आज भी भानगढ़ में मोजूद है ! (भानगढ़ का रहस्य)


Dear Readers : I hope आपको हमारे द्वारा शेयर की गयी जानकारी “Bhangarh Story In Hindi | भानगढ के किले का इतिहास | भानगढ़ का रहस्य” पसंद आई होगी.

Note : अगर आपको “Bhangarh Story In Hindi” पसंद आये तो शेयर और कमेंट जरुर करे.

READ ALSO : 

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *